बलिया : खबरें एक नजर में…

जब भड़क गये अधिवक्ता

बलिया। नौकरी के नाम पर 30 लाख रुपये की जालसाजी कर लेने के एक मामले में आंध्र प्रदेश पुलिस ने आरोपी के भाई अधिवक्ता रणजीत राय को माल्देपुर उनके गांव से उठा लिया। इसके बाद शुक्रवार को सीजेएम अमित मालवीय के अदालत में ट्रांजिट रिमांड हेतु अधिवक्ता को पेश किया गया। यह देख अधिवक्ता भड़क गए और हो हल्ला करने लगे। यह देख सीओ सिटी केसी सिंह भारी संख्या में फोर्स मौके पर पहुंच गए। इसमें कुछ त्रुटिपूर्ण कागजात होने की वजह से ट्रांजिट रिमांड नहीं बन पाया। इस पर आंध्र प्रदेश पुलिस ने आरोपी को मौका देकर छोड़ दिया। इसके बाद आंध्र प्रदेश की पुलिस वापस चली गई।

 
स्कूल में चोरी

बलिया। फेफना थाना क्षेत्र के रौसिंगगपुर गांव के प्राथमिक विद्यालय का गुरुवार की रात चोरों ने ताला तोड़कर पीतल का घंटा, विज्ञान कीट, तराजू सहित 40 किग्रा गेहूं, 15 किग्रा आटा, 50 किग्रा चावल आदि पर हाथ साफ कर
दिया। प्रधानाध्यापक सुमेरु राम ने इस संबंध में थाने में तहरीर दे दी है।

 

 

हरकत में आया राजस्व विभाग

बलिया। बैरिया स्थानीय तहसील अन्तर्गत श्रीनगर नई बस्ती के अग्नि पीडितो को राजस्व विभाग द्वारा तत्काल राहत नहीं पहुँचाने पर सांसद भरत सिंह खफा हो गये थे। बृहस्पतिवार को वह जब पीड़ितों का हाल जानने पहुंचे तो पीड़ितों ने अपनी व्यथा सुनाई. जिस पर नाराज सांसद ने वहीं से मोबाइल पर जिलाधिकारी बलिया व उप जिलाधिकारी बैरिया से बात की और तुरन्त पीड़ितों में सहायता पहुंचाने को कहा।
वहां पीड़ितों ने उप जिलाधिकारी पर समस्याओं को बताते समय गम्भीरता व सहानुभूति नहीं दिखाने का भी आरोप लगाया था। जिस बात पर सांसद खफा हो गये थे। सांसद की नाराजगी की खबर से राजस्व विभाग हरकत में आया और तहसीलदार मिश्री सिंह चौहान व नायब तहसीलदार शशिकान्त मणि रात में आठ बजे के लगभग श्रीनगर नयी बस्ती पहुंच कर चार पीडितो में 27 हजार800 रुपये का चेक वितरित किए। जिसमे त्रिलोकी गोंड को 4100 रुपये व जवाहिर गोंड, राजमुनी देवी तथा रामजी को 7,900 रुपये का प्रति व्यक्ति चेक वितरित किये। ज्ञात रहे कि बुधवार की शाम श्रीनगर नयी बस्ती मे अज्ञात कारणो से लगी आग मे काफी नुकसान हुआ था।

 

 

बाइक पोल से टकराई, सिपाही घायल

बलिया। बेल्थरा मार्ग के रूद्रवार चट्टी पर शुक्रवार को सुबह सड़क किनारे खड़े विद्युत पोल से बाइक टकरा गई। जिससे उस पर सवार सिपाही रामकेश गुप्ता (35) गंभीर रूप से घायल हो गए। इलाज हेतु उन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मऊ जनपद के रतनपुरा निवासी बांसडीहरोड थाने में तैनात रामकेश परीक्षा देकर बाइक से गोरखपुर से अपने तैनाती स्थल पर जा रहे थे। वह जैसे ही रुद्रवार चट्टी पर पहुंचे कि बाइक अचानक असंतुलित होकर सड़क किनारे पोल से टकरा गई। जिससे सड़क पर गिरकर घायल हो गए। दुर्घटना होते ही मौके पर लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। सूचना पाकर 100 नंबर का पुलिस वाहन कुछ देर में ही मौके पर पहुंच गया और सिपाहियों ने इलाज हेतु उन्हें स्थानीय सीएचसी पहुंचाया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर ने उन्हें सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।

 
बीएड प्रशिक्षुओं का रुका रिजल्ट

बलिया। सिकन्दरपुर क्षेत्र के रक्सा स्थित किसान स्नात्तकोत्तर महाविद्यालय में शैक्षिक सत्र 2013 -14 के 20 बीएड प्रशिक्षुओं का परीक्षा परिणाम अभी तक रुका हुआ है। बीएड प्रशिक्षु परीक्षा परिणाम जानने के लिए दर-दर भटक रहे हैं। लगभग तीन वर्ष से भी अधिक समय हो गया, परिणाम रुका होने के कारण बीएड प्रशिक्षु कहीं भी प्रवेश नहीं ले पा रहे हैं। किसी प्रतियोगी परीक्षा के लिए आवेदन करना भी इनके लिए मुसीबत के समान है।

 
मनाई गई डा. भीमराव अंबेडकर की जयंती

बलिया। बाबा साहब भीम राव अम्बेडकर की 126वीं जयंती धूमधाम से मनायी गयी। जिले भर में विविध कार्यक्रम आयोजित हुए। कार्यक्रम की शुरूआत विकास भवन से हुई, जहां आयोजित गोष्ठी में बाबा साहब को याद किया गया। गोष्ठी का शुभारम्भ मुख्य अतिथि जिलाधिकारी गोविंद राजू एनएस ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इसके बाद उपस्थित सभी ने बाबा साहब के चित्र पर माल्यार्पण कर उनको याद किया। गोष्ठी में जिलाधिकारी ने कहा कि बाबा साहेब जीवन संघर्षमय रहा। उन्होंने शिक्षा के प्रति जागृत किया। उनके संविधान की देन है कि आज हर वर्ग के लोगों को न्याय पहुंच रहा है। उन्होंने जो कृति समाज में हासिल की, वह सराहनीय है। सामाजिक समरसता लाने में जो योगदान किया उसे भुलाया नही जा सकता। भाषा, डेवलपमेण्ट, मानवीय अधिकार, विकास पर जोर दिया। इस अवसर पर अधिकारियों व कर्मचारियों से आह्वान किया कि कल्याण कारी योजनाओं को जनता तक पहुचाना हम सभी कर्तव्य है। अगर यह ईमानदारी के साथ लोगों के पास पहुचेगी तो सामाजिक समानता अपने आप आ जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि बाबा साहब ने विषम परिस्थितियों में शिक्षा ग्रहण कर मुकाम हासिल किया। शिक्षा के प्रति जागरूक किया और देश की उन्नति के लिए कार्य किया। उनके इन संघर्षो से प्रेरणा लेते हुए उनके आदर्शो पर चलना चाहिए। गोष्ठी में डीसी मनरेगा उपेंन्द्र कुमार पाठक, बब्बन, गौरीशंकर राम, समाजसेवी सिकंदर खां, कर्मचारी नेता बलवंत सिंह सहित दर्जनों वक्ताओं ने बाबा साहब के जीवन के बारे में बताया। संचालन अविनाश उपाध्याय ने किया। इस जयंन्ती समारोह में विकास एवं कलेक्ट्रेट के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

 

 

डिजीधन मेला का शुभारंभ

बलिया। बाबा साहब की 126वीं जयंती के अवसर पर शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार के पास डिजी-धन मेला का भव्य आयोजन हुआ। मेले में डिजिटल व्यवस्थाओं से जुड़ी तथा कैशलेस सम्बंधी जानकारियां दी गयी। भीम-आधार ऐप से जरिये मात्र फिंगर प्रिंट से पैसे से लेन-देन पर विशेष जोर रहा। मेले में सांसद, विधायक समेत सभी सरकारी अधिकारी मौजूद रहे। मेले में ही आयोजित गोष्ठी में अम्बेडकर के व्यक्तित्व व कृतित्व पर सभी ने प्रकाश डाला। डिजी-धन मेला का उद्घाटन सांसद भरत सिंह ने फीता काटकर व दीप प्रज्ज्वलित कर किया। सांसद ने कहा कि सरकार का पूरा जोर है कि डिजिटली व्यवस्था में सब ढ़ल जाएं। इससे जहां हर सरकारी कार्यां में पारदर्शिता आएगी वहीं आम जनता को भी लेनदेन करना आसान हो जाएगा। सांसद ने कहा बाबा साहब ने समाज के दबे कुचले लोगों का ऊपर उठाने का काम किया। आजादी के बाद देश दो टुकड़ों में बंट गया भारत व पाकिस्तान। लेकिन अगर तीसरा विभाजन नहीं हुआ तो इसका श्रेय बाबा साहब को ही जाता है। सांसद श्री सिंह ने कहा कि मोदी जी ने गरीबों के लिए काफी काम किये। उज्जवला योजना, जनधन योजना जैसी कई योजनाओं के द्वारा गरीबों को लाभ दिया। अब कैशलेस व्यवस्था लागू करने पर उनका जोर है। प्रशासन इसका खूब प्रचार प्रसार करें और गांव-गांव तक लोगों को प्रेरित करें। मेले के सफल आयोजन पर सांसद ने जिला प्रशासन को बधाई दी। इस अवसर पर विधायक सदर आनंदस्वरूप शुक्ला ने कहा, सरकार के हर कार्यां में जनता का सहयोग मिला। विधायक बैरिया सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि कैशलेस या डिजिटल व्यवस्था जितनी जरूरी है, उससे भी जरूरी ये है कि इसे संचालित कराने वाले कार्य में पवित्रता, पारदर्शिता, गतिशीलता बनायें रखें। सिकंदरपुर के विधायक संजय यादव ने कहा कि गरीब तबके के लोगों तक न्याय पहुंचाने में बाबा साहब की ही महत्वपूर्ण भूमिका है। इस अवसर पर एसपी आरपी सिंह, एडीएम मनोज सिंघल, सीआरओ बी.राम, सिटी मजिस्ट्रेट रामगोपाल सिंह समेत सभी अधिकारी मौजूद रहे।