बेटी को मौत के घाट उतारने के मामले में पिता व चाचा गिरफ्तार

वाराणसी। बेटी ने आठ माह पूर्व गैर जाति में विवाह कर लिया था । इससे नाराज पिता ​व चाचा ने अपनी ही बेटी को उतारा मौत के घाट बेटी का गला दबाकर मार दिया। और मौत को आत्महत्या का रूप दे दिया था। रोहनिया थाना प्रमुख क्षितिज त्रिपाठी ने बताया कि मीरजापुर के मड़िहाल जिले की रहने वाली पूनम पटेल ने रोहनिया थाना क्षेत्र के अखरी निवासी नीलम राम से प्रेम विवाह किया था। शादी को लेकर पूनम के परिजन काफी क्रोध में थे। कुछ दिनो बाद पूनम के पिता शिवनारायण व चाचा पंच पटेल नीलम के घर पहुंच गए और विदाई के बहाने पूनम को लेकर लापता हो गए। कुछ दिनो बाद नीलम राम ने पूनम के पिता व उनके भाई के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया। जॉंच के दौरान पुलिस को पता चला की पिता व चाचा दोनो ने घर छोड़ दिया है और सामने यह भी बात आई की पूनम की लाश पेड़ से लटकी मिली थी।नीलम को जब जानकारी हुई तो उसने जॉंच की गुहार लगाई। मंगलवार पुलिस ने रोहनिया क्षेत्र से पिता व चाचा को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनो ने अपना गुनाह कबुल कर लिया।