गुजरात विधानसभा : बंपर वोटिंग, राहुल और मोदी की प्रतिष्ठा लगी है दांव पर

दूसरे और अंतिम चरण की वोटिंग 14 को, 18 दिसंबर को होगी मतगणना
गांधीनगर। गुजरात विधानसभा के लिए पहले चरण में दक्षिण और सौराष्ट्र-कच्छ क्षेत्र के 19 जिलों की 89 सीटों पर आज सुबह आठ बजे मतदान जारी है और पहले दो घंटे में अपेक्षाकृत सुस्त रफ्तारी के बाद वोटिंग में तेजी आ गई है तथा पहले साढ़े सात घंटे में यानी अपराहन साढ़े तीन बजे तक अनुमानित 55 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ है। पहले चरण में स्वयं मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और 22 साल से राज्य में सत्तारूढ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष जीतू वाघाणी समेत कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। सुबह से ही कई स्थानों पर मतदाताओं की लंबी कतारें हैं। किसी भी बूथ पर हिंसक घटना नहीं घटी है। बता दें कि मतदान के अंतिम घंटों में तेजी आई है। इसी प्रकार वोटिंग होती रही तो मतदान खत्म होते-होते 70 प्रतिशत से उपर वोटिंग का अनुमान है।
किसने लगाए कितने आरोप
कांग्रेस के पोरबंदर सीट के प्रत्याशी सह पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अर्जुन मोढवाडिया ने आरोप लगाया, इवीएम में धांधली की आशंका है। मोढवाडिया ने कहा, शारदानगर के तीन बूथ पर इवीएम ईसीओ गुजरात नाम के ब्लूटूथ से जुड़े थे। कार्यकर्ता ने इसका स्क्रीन शॉट भी लिया है। अगर सारे इवीएम के साथ ऐसा है तो यह बड़ी धांधली की ओर इशारा है। इस बारे में आयोग से शिकायत की गई है। आयोग ने इस मामले की जांच कराने के आदेश दिए हैं। उपलेटा गांव की सबसे उम्रदराज 126 साल की अजीबेन ने डाला वोट। गिर सोमनाथ जिले के गिर जंगल के भीतर बानेज में केवल एक मतदाता वाले मतदान केंद्र पर स्थानीय मंदिर के महतं भरतदास ने भी मतदान किया। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने वीएम में गड़बड़ी के आरोपों को बताया बेबुनियाद। जामनगर के सोरठी तथा ध्रोल के गज्जडी समेत कुछ अन्य स्थानों पर लोगों के स्थानीय मुद्दों को लेकर मतदान का बहिष्कार करने की भी सूचना है। जल्दी मतदान करने वाले प्रमुख राजनेताओं में रूपाणी,वाघाणी के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल, पूर्व अध्यक्ष अर्जुन मोढवाडिया, मंत्री बाबू बोखिरिया, गणपत वसावा , केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला आदि शामिल थे। क्रिकेटर चेतेश्वर पुजारा ने भी राजकोट में मतदान किया।
977 उम्मीदवार मैदान में
पहले चरण में 57 महिलाओं समेत कुल 977 उम्मीदवार मैदान में हैं। सत्तारूढ़ भाजपा ने सभी 89 सीटों पर जबकि मुख्य विपक्षी कांग्रेस ने 87 सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं। बसपा ने 64, सपा ने चार, वाघेला के जन विकल्प मोर्चा ने 48, आप ने 21, जदयू ने 14, राकांपा ने 30 और शिवसेना ने 25 प्रत्याशी उतारे हैं। 443 निर्दलीय हैं।