राष्ट्रपति को सौंपा गोमती एक्शन प्लान

वाराणसी। स्वच्छ गोमती अभियान के संरक्षक नीरज गुप्ता ने चित्रकूट में राष्ट्रपति रामनाथ कोविद को अभियान की ओर से तैयार की गई गोमती एक्शन प्लान की प्रोजेक्ट रिपोर्ट सौंपी। यह प्रोजेक्ट प्रथम चरण में जौनपुर के नगरीय क्षेत्र में गोमती नदी में गिर रहे सभी नालों को बंद कराकर उनपर सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाने, गोमती नदी के तटों के सुंदरीकरण और गोमती की स्थिति की निरंतर जांच के लिए एक लैबोरेटरी की स्थापना करने के संबंध में तैयार हुआ है।
इसे अभियान की हाई पावर कमेटी के अध्यक्ष व देश के जाने माने वैज्ञानिक प्रो. इंद्रमणि मिश्र के निर्देशन में तैयार किया गया है। चर्चा के दौरान राष्ट्रपति गोमती की दुर्दशा व स्वच्छ गोमती अभियान के बारे में मौन होकर सुनते रहे। राष्ट्रपति से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधिमंडल में गोमती अभियान के मुख्य संरक्षक व न्यूरोलॉजिस्ट प्रो. विजयनाथ मिश्र, स्वच्छ गोमती अभियान के विधिक सलाहकार व केंद्रीय गंगा अधिनियम ड्राफ्ट रिव्यू कमेटी में सदस्य एडवोकेट अरुण गुप्ता, वरिष्ठ समाजसेवीअतुल कुमार श्रीवास्तव मौजूद रहे। संकट मोचन फाउंडेशन के अध्यक्ष प्रो. विश्वम्भर नाथ मिश्र की ओर से प्रो. विजयनाथ मिश्र ने राष्ट्रपति को काशी शत् विभूति का चित्र भेंट किया। अभियान के संरक्षक नीरज गुप्ता ने राष्ट्रपति को बताया कि संकट मोचन फाउंडेशन के अध्यक्ष महंत विश्वम्भर नाथ मिश्र के शुरू कराये इस अभियान से काफी लोग जुड़ चुके हैं।